अपनी पहली परीक्षा में नरेंद्र मोदी पास होंगे या फेल?

चार राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे कल आने वाले हैं. इसके अलावा मिजोरम में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे सोमवार को आएंगे. कल जिन चार राज्यों में नतीजे आने हैं, उनमें मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और दिल्ली शामिल है. इन चार राज्यों में से 2 में जहां कॉंग्रेस की सरकार है, तो वहीं 2 में बीजेपी की सरकार है. बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के समर्थकों व उनकी पार्टी का मानना है कि इन चुनावों पर ‘मोदी लहर’ का असर होगा. मतलब अगर उनकी दृष्टि से देखा जाए, तो यह मोदी की परीक्षा है, जिसके नतीजा कल आना है. बड़ी बात यह है कि क्या मोदी अपनी पहली परीक्षा में सफल हो पाएंगे? क्या मोदी इन चार राज्यों में अपनी पार्टी को जीत का तोहफा दे पाएंगे? अगर दे पाए, तो जीत कितनी बड़ी होगी? इन तमाम सवालों के जवाब हमें कल दोपहर तक मिल जाएंगे, लेकिन मोदी का औसत प्रदर्शन तय लगता है.

बीजेपी मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में सत्ता पर पिछले दस सालों से काबिज है. इन दोनों राज्यों में उलटफेर हो सकता है और कॉंग्रेस को फायदा मिल सकता है. इसके बावजूद इन दोनों राज्यों में अगर बीजेपी जीत भी गई, तो भी पिछली बार के मुकाबले सीटें कम ही रहने का अनुमान है. साल 2008 में बीजेपी ने 230 सीटों वाली मध्यप्रदेश विधानसभा में 143 सीटें हासिल की थीं, तो वहीं 90 सीटों वाली छत्तीसगढ़ विधानसभा में बीजेपी की 50 सीटें थीं. राजस्थान में कॉंग्रेस की 200 में से 96 सीटें थीं और वहीं दिल्ली में त्रिकोणीय संघर्ष की वजह से स्थिति पहले ही बदली हुई है. ऐसे में अगर ‘मोदी लहर’ को माना जाए, तो मध्यप्रदेश में बीजेपी को कम से कम 150 सीटें जीतनी चाहिए और छत्तीसगढ़ में कम से कम 51 सीटें हासिल करनी चाहिए. दिल्ली में आम आदमी पार्टी के वजूद को नकारते हुए मोदी के प्रभाव में जनता को बीजेपी के हाथ में कम से कम 40 सीटें के साथ सत्ता सौंप देनी चाहिए. लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है.

मोदी समर्थक यह कह सकते हैं कि आखिर हार का ठीकरा मोदी पर क्यों? इसका जवाब यह है कि आखिर जीत का सेहरा भी तो मोदी के सिर पर बांधा जाएगा. बीजेपी को शिवराज या रमण सिंह का काम याद नहीं रहा, उन्हें तो बस ‘मोदी लहर’ पर भरोसा है. मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में 70 फीसदी से ज्यादा वोटिंग हुई है, क्या इसका मतलब यह नहीं हो सकता कि जनता शिवराज और रमण सिंह से सत्ता छीनना चाहती हो. अक्सर ज्यादा वोटिंग सत्तारुढ़ दल के लिए परेशानी का कारण बनता रही है. दिल्ली में भी रिकॉर्ड 65 फीसदी वोटिंग हुई, लेकिन यहां आम आदमी पार्टी की वजह से समीकरण बदल गया है. यह भी संभव है कि शीला या कॉंग्रेस के वोट उसे मिल जाएं और आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच उन मतदाताओं के वोट बंटें, जो परिवर्तन देखना चाहते हों. इसके बावजूद अगर यह मान भी लें कि दिल्ली में शीला हार जाएंगेी, तो भी क्या बीजेपी बहुमत हासिल कर पाएगी? इसमें थोड़ा शक है. कुल मिलाकर बीजेपी को दिल्ली में भी ‘मोदी लहर’ का फायदा मिलता नहीं दिख रहा है.

नरेंद्र मोदी को बीजेपी द्वारा प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद यह पहला मौका है, जब उनके तथाकथित ‘मोदी लहर’ को जनता परखेगी. नरेंद्र मोदी ने इसमें कोई कसर भी नहीं छोड़ी है. नरेंद्र मोदी ने कॉंग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कॉंग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना में कहीं ज्यादा सभाएं की हैं. दिल्ली में भी मोदी ने ताबड़तोड़ सभाएं कीं. छत्तीसगढ़ भी मोदी गए, लेकिन जनता ने सभा में ‘चौर वाले बाबा’ के नाम से मशहूर रमण सिंह को ढूंढना शुरू कर दिया, लेकिन बीजेपी के लिए रमण सिंह या ‘चौर वाले बाबा’ महत्वपूर्ण नहीं हैं, बल्कि नरेंद्र मोदी ज्यादा महत्वपूर्ण हैं. ऐसे में देखना होगा कि क्या नरेंद्र मोदी शिवराज और रमण सिंह को पिछली बार के मुकाबले ज्यादा सीटें दिलवा पाएंगे? क्या नरेंद्र मोदी दिल्ली में डॉ. हर्षवर्धन को बहुमत दिलवा पाएंगे? क्या नरेंद्र मोदी राजस्थान में वसुंधरा को भारी बहुमत से सत्ता पर काबिज करा पाएंगे. राजस्थान में ‘भारी बहुमत’ शब्द का इस्तेमाल इसलिए कर रहा हूं क्योंकि राजस्थान में अब तक यही रीति रही है कि वहां सत्तारुढ़ दल की हार होती रही है. ऐसे में अगर मोदी का जादू होगा, तो हार-जीत का अंतर भी तो बहुत बड़ा होना चाहिए. वैसे आम जनता के बीच लोकप्रिय अशोक गहलोत उलटफेर भी कर सकते हैं. वहीं दिल्ली में कॉंग्रेस ने जिस शीला दीक्षित पर भरोसा किया है, वो शीला चौथी बार परचम लहरा सकती हैं. बहरहाल नतीजे कुछ भी हों, पास या फेल तो नरेंद्र मोदी को ही होना है.

Follow Me on Twitter: @srameshwaram

Mail me on: srameshwaram@gmail.com

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s