एक सच जो बन गया ‘वायरल झूठ’

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे कई झूठ के बीच हमारी सेना के हित से जुड़ा एक सच भी दुर्भाग्यवश झूठ समझा जा रहा है। दरअसल हाल में सियाचिन में हुई बर्फबारी के कारण सेना को जानमाल का नुकसान हुआ था। सेना के मुताबिक इसके बाद देश में सेना की मदद करने के लिए भावनात्मक ज्वार उमड़ पड़ा। लोग हताहत हुए सैनिकों के परिजनों की आर्थिक मदद करना चाहते थे। पहले भी इस तरह के अनुरोध आते रहे थे, सो Army Welfare Fund Battle Casualties के नाम पर Syndicate Bank की दिल्ली स्थित एक शाखा में रक्षा मंत्रालय द्वारा खाता खोला गया। कहा गया कि लोग इसमें शहीदों के परिवारों की मदद के लिए अपनी सुविधानुसार पैसे जमा करा सकते हैं। ये खबर देश के कई अखबारों और न्यूज़ चैनल्स ने भी दिखाई थी। लेकिन इस बीच सोशल मीडिया में इसे फ़र्ज़ी बताया जाने लगा। इसके बाद 2 सितंबर को Additional directorate general of public information, IHQ of MoD ने स्पष्टीकरण जारी किया ( https://twitter.com/adgpi/status/771575930145779712 )। ये खबर भी कई जगह चली। इसी बीच उरी हमले के बाद फिर से सोशल मीडिया पर ये जानकारी दी जाने लगी, लेकिन ज्यादातर लोग इसे फ़र्ज़ी ही मानते रहे। पुनः 22 सितंबर को आर्मी की तरफ से कहा गया कि ये जानकारी गलत नहीं है। सिंडिकेट बैंक ने भी प्रेस रिलीज़ जारी करके इसे सही बताया। यहाँ दोनों रिलीज़ और उनके स्रोत दिए गए हैं। मेरा आग्रह है कि वायरल हो रहे तमाम झूठ के बीच इस सचाई को पहचानिये। अगर जानकारी नहीं है, तो बिना जाने इसे झूठ मत कहिये। इससे हमारे जवानों के परिवारों को मिलने वाली मदद कम हो जाएगी। आप योगदान नहीं करना चाहते हों तो मत करिए, लेकिन बिना जाने उनकी मदद को रोकने का काम मत करिए। बड़ी बात तो ये कि इसे ड्राफ्ट के रूप में सीधे आर्मी को भी भेजा जा सकता है, फिर शक कैसा? ( 22 सितंबर का ADG PI-Indian Army का ट्वीट – https://twitter.com/adgpi/status/778898773892173824 ), सिंडिकेट बैंक की रिलीज़ – https://www.google.co.in/url?sa=t&source=web&rct=j&url=https://www.syndicatebank.in/Announcement/Army_Battle_Casualties.pdf&ved=0ahUKEwi77ovcjaXPAhUFkZQKHSuOD1QQFggdMAA&usg=AFQjCNHxMJBN6-vruueQ0SmkkRY4zsxagA&sig2=uPyi5dExnJbAjvRR3SafDw )

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s